Home जिले Chandauli news : पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू पहुँचे रेवसा, कहा- विकास के नाम पर किसानों को भूमिहीन और छलने का प्रयास

Chandauli news : पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू पहुँचे रेवसा, कहा- विकास के नाम पर किसानों को भूमिहीन और छलने का प्रयास

0
Chandauli news : पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू पहुँचे रेवसा, कहा- विकास के नाम पर किसानों को भूमिहीन और छलने का प्रयास

Chandauli News : समाजवादी पार्टी के नेता व सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू गुरुवार को रेवसा गांव के पहुँचे. इस दौरान किसानों ने मुआवजे के नाम पर जिला प्रशासन द्वारा छले जाने की शिकायत की. बताया कि जिस जमीन का वर्ष 2012 में जिस जमीन का मुआवजा 14 से 16 लाख रुपये मिला था, वहीं अब उसी जमीन का मुआवजा प्रशासन 3.57 लाख रुपये दे रहा है. बताया कि इस प्रकरण को लेकर सांसद डा.महेंद्रनाथ पांडेय, डीएम व एडीएम चंदौली को भी अवगत कराया गया. लेकिन कुछ नहीं हुआ. इस पर पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू ने एडीएम चंदौली अभय कुमार पांडेय के समक्ष किसानों की समस्या को न सिर्फ मजबूती से रखा बल्कि उनके समुचित निराकरण की आवश्यकता जताई. 

जानकारी देते पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू…

इस दौरान मनोज सिंह डब्लू ने जिला प्रशासन पर बड़ा आरोप लगाया. कहा कि सरकार केवल बड़े-बड़े वादे करती है. विकास के नाम पर किसानों को भूमिहीन बनाने व उन्हें छलने का काम किया जा रहा है. रेवसा में नेशनल हाइवे व रिंग रोड निर्माण के दौरान किसानों को जिस जमीन का 16 लाख रुपये मुआवजा मिल चुका है. वर्तमान में भारत माला रोड के निर्माण के लिए अधिग्रहित की जा रही जमीन के बदले जिला प्रशासन 3.57 लाख रुपये मुआवजा दे रही है. आरोप लगाया कि सरकार व जिला प्रशासन भूमि अधिग्रहण कानून का पालन करने की बजाय किसानों को छलने का काम कर रही है. यह सीधे तौर पर किसानों का शोषण व दमन है. 

उन्होंने कहा कि भारत माला सड़क निर्माण के नाम पर किसानों का उत्पीड़न व शोषण किसी भी हाल में नहीं होने दिया जाएगा. इस प्रकरण को लेकर 27 जनवरी को डीएम चंदौली से मुलाकात कर किसानों की समस्या रखी जाएगी. बताया कि मुआवजे की समस्या को लेकर प्रभावित किसान आगे आने वाले दिनों में सांसद व केंद्रीय मंत्री डा.महेन्द्रनाथ पांडेय से मिलकर अपनी समस्या को रखने का काम करेंगे. जरूरत पड़ी तो उनका घेराव कर किसान अपनी समस्याओं को रखेंगे. क्योंकि धरना-प्रदर्शन व जिला प्रशासन से मुलाकात कर समस्या का समाधान होने की उम्मीदें अब नहीं रही. चेताया कि समाधान न होने पर किसानों के हक आंदोलन किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here