Tuesday, April 16, 2024
spot_img
HomeBlogइलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय सचिव ने इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफेक्चरिंग उद्योग में महिला...

इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय सचिव ने इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफेक्चरिंग उद्योग में महिला कार्यबल के योगदान को सम्मानित किया

-

नई दिल्ली

गणतंत्र दिवस 2024 के एक अहम उत्सव पर, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने विभिन्न क्षेत्रों और मंत्रालयों के मेहमानों को कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस परेड देखने के लिए आमंत्रित किया। इस वर्ष, लगभग 13,000 विशेष मेहमानों को भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया था, जो सरकार के जनभागीदारी के दृष्टिकोण के अनुरूप था, जिससे सभी क्षेत्रों के नागरिकों को राष्ट्रीय उत्सव में सक्रिय रूप से शामिल होने के लिए प्रोत्साहित किया गया।

गणतंत्र दिवस समारोह में पांच प्रमुख कंपनियों – सैमसंग, विस्ट्रॉन, डिक्सन, पेगाट्रॉन और वीवीडीएन – की 250 से अधिक महिला श्रमिकों ने भाग लिया। गणतंत्र दिवस परेड में इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफेक्चरिंग उद्योग से इन महिला श्रमिकों की उपस्थिति समावेशिता, विविधता और सक्रिय नागरिक भागीदारी के प्रति सरकार के समर्पण को दर्शाती है।

भारत में इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफेक्चरिंग उद्योग में महिला कार्यबल के योगदान को सम्मानित करने और मान्यता देने के लिए इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) और राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईईएलआईटी) द्वारा डॉ. अंबेडकर अंतर्राष्ट्रीय केंद्र, नई दिल्ली में एक कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। 27 जनवरी, 2024 को इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी सचिव श्री एस कृष्णन ने मुख्य अतिथि के रूप में इस अवसर की शोभा बढ़ाई। कार्यक्रम के दौरान उपस्थित अन्य अधिकारियों में एनआईईईएलआईटी महानिदेशक डॉ. मदन मोहन त्रिपाठी, सीईओ, ईएसएससीआई डॉ. अभिलाषा गौड़, एसवीपी, वीवीडीएन श्रीमती गिरिजा वेदी और  ईडी, नाइलिट श्री सुभांशु तिवारी शामिल थे।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001PZRG.jpg

इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय सचिव ने इलेक्ट्रॉनिकी विनिर्माण उद्योग की इन महिला श्रमिकों को संबोधित किया और उनसे बातचीत की। कार्यक्रम के दौरान प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए, श्री एस. कृष्णन ने कहा कि “महिलाएं ऐसे गुणों का प्रदर्शन करती हैं जो किसी भी उद्योग की सफलता और गतिशीलता में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं”। उन्होंने इस बात की सराहना की कि “महिलाएं कार्यस्थल के भीतर विश्वसनीयता की भावना को बढ़ावा देते हुए लगातार विश्वसनीयता, अखंडता और अपनी भूमिकाओं के प्रति दृढ़ प्रतिबद्धता प्रदर्शित करती हैं”।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002RFAP.jpg

महिला कार्यकर्ताओं ने कहा कि कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस समारोह के निमंत्रण से वे बेहद सम्मानित और गौरवान्वित महसूस कर रही हैं। अपनी उपलब्धियों को देश के सामने प्रदर्शित करने का अवसर देने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि वे उनके गर्मजोशी भरे आतिथ्य से अभिभूत हैं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003P477.jpg

एनआईईएलआईटी ने डिजिटल इंडिया के लक्ष्यों के अनुरूप इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफेक्चरिंग क्षेत्र के विकास में योगदान देने के लिए प्रतिभागियों के कौशल और ज्ञान को बढ़ाने के लिए महिला श्रमिकों के लिए वीवीडीएन, ईएसएससीआई और माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के विशेषज्ञों के साथ एक विशेष प्रशिक्षण कार्यशाला का भी आयोजन किया है। कार्यशाला के विषय हैं-(i) भारत और दुनिया में इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफेक्चरिंग के ईकोसिस्टम का विस्तार और (ii) कैसे अपस्किलिंग और रीस्किलिंग उनकी विशेषज्ञता और रोजगार क्षमता को व्यापक बना सकती है – टैलंट गैप को भरना।

Related articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected
0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent Posts