Home जिले Ghazipur news: तथाकथित पत्रकार पर कसेगा कानूनी शिकंजा!..अवैध धन उगाही से परेशान हास्पिटल संचालक आत्महत्या करने को हैं मजबूर

Ghazipur news: तथाकथित पत्रकार पर कसेगा कानूनी शिकंजा!..अवैध धन उगाही से परेशान हास्पिटल संचालक आत्महत्या करने को हैं मजबूर

0
Ghazipur news: तथाकथित पत्रकार पर कसेगा कानूनी शिकंजा!..अवैध धन उगाही से परेशान हास्पिटल संचालक आत्महत्या करने को हैं मजबूर

– Advertisement –

ब्यूरो रिपोर्ट

गाजीपुर। खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर पत्रकारिता को कलंकित करने वाला एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर सम्मानित पत्रकारों में कई तरह की चर्चाएं शुरू हो गई है, अधिकतर पत्रकार भ्रष्टाचार से संबंधित खबरों को प्रमुखता से प्रकाशित करते हैं लेकिन कुछ तथाकथित पत्रकार भ्रष्टाचार में लिप्त होकर आम जनमानस को आत्महत्या करने तक के लिए मजबूर कर दे रहे हैं, गाज़ीपुर एसपी ओमवीर सिंह द्वारा तथाकथित पत्रकारों को गिरफ्तार कर जेल भेजने का कई बार आदेश पुलिस कर्मियों को दिया जा चुका है लेकिन ताजा मामला में गाजीपुर जिले के एक तथाकथित पत्रकार द्वारा हास्पिटल संचालक से अवैध धन उगाही के लिए बार-बार परेशान किया जा रहा है।
विश्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तथाकथित पत्रकार से मानसिक तौर पर परेशान होकर हास्पिटल संचालक आत्महत्या तक करने को मजबूर हो गया है।
हास्पिटल संचालक द्वारा अधिवक्ताओं से कानूनी सलाह ली जा रही है जिससे तथाकथित पत्रकार द्वारा मानसिक उत्पीड़न का हल निकाला जा सके, इस मामले के संदर्भ में जब अधिवक्ताओं से सलाह ली गई तो अधिवक्ताओं द्वारा हास्पिटल संचालक को सलाह के तौर पर कहा गया कि मामले से संबंधित तथाकथित पत्रकार को लीगल नोटिस भेजो और पुलिस प्रशासन और न्यायालय द्वारा मुकदमा दर्ज करके इन तथाकथित पत्रकारों का न्याय संगत धाराओं में गिरफ्तारी कर अवैध धनउगाही और मानसिक उत्पीड़न का रोकथाम किया जा सकता है
मरता क्या न करता हास्पिटल संचालक ने अधिवक्ताओं के दिए गए कानूनी सलाह को अपनाया और साहस करते हुए तथाकथित पत्रकार के विरुद्ध में स्थानीय पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज करने को तैयार हो गए है। रोज-रोज के मानसिक उत्पीड़न से तंग और परेशान होकर बहुत जल्द हास्पिटल संचालक स्थानीय थाना में तथाकथित पत्रकार के खिलाफ तहरीर दे कर मुकदमा दर्ज करने की मांग करेंगे, कुछ लोगों द्वारा यह भी कहा जा रहा है की कुछ दिनों से लागातार तथाकथित पत्रकार द्वारा हास्पिटल संचालक को बार-बार फोन करके पांच हजार रूपए की डिमांड किया जा रहा है और कहा जा रहा है कि अगर पैसा नहीं दोगे तो खबर चला देगे जिससे तुमको बहुत भारी पड़ जाएगा। हास्पिटल संचालक तथाकथित पत्रकार से प्रताड़ित होकर आत्महत्या करने को मजबूर हैं। लेकिन कुछ लोगों के द्वारा सलाह दिए जाने के बाद अस्पताल संचालक कानून लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हो गए,अभी देखना यह है कि गाजीपुर पुलिस हास्पिटल संचालक द्वारा शिकायत दर्ज करने के बाद तथाकथित पत्रकार पर क्या कार्रवाई करती है ?

– Advertisement –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here