Home Blog जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक चन्दौली की अध्यक्षता में आज सदर तहसील में “संपूर्ण समाधान दिवस” का हुआ आयोजन

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक चन्दौली की अध्यक्षता में आज सदर तहसील में “संपूर्ण समाधान दिवस” का हुआ आयोजन

0
जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक चन्दौली की अध्यक्षता में आज सदर तहसील में “संपूर्ण समाधान दिवस” का हुआ आयोजन

जमीन के मामलों का पुलिस व राजस्व की टीम द्वारा संयुक्त रुप से किया जाए निस्तारण : जिलाधिकारी

किसी भी शिकायत के निस्तारण में न करें लापरवाही- पुलिस अधीक्षक

चन्दौली

तहसील दिवस पर जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक चन्दौली द्वारा संयुक्त रूप से सदर तहसील में की गई मामलों की सुनवाई

शनिवार को जनपद के प्रत्येक तहसील स्तर पर “संपूर्ण समाधान दिवस” का आयोजन किया गया । जिलाधिकारी चन्दौली निखिल टी फुण्डे एवं पुलिस अधीक्षक चन्दौली डा0 अनिल कुमार द्वारा सदर तहसील पर उपस्थित रहकर “संपूर्ण समाधान दिवस” की अध्यक्षता की गई । इस दौरान फरियादियों की समस्याओं को सुनकर संबंधित अधिकारियों को मौके पर जाकर जनशिकायतों की निष्पक्ष जाँच करके विधिक निस्तारण करने के निर्देश दिए गए ।

संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त प्रार्थना पत्रों का समयबद्ध रूप से निस्तारण करने तथा जिन प्रार्थना पत्रों का निस्तारण उच्चाधिकारी स्तर से किया जाना है उन पर रिपोर्ट लगाकर सम्बंधित अधिकारी को प्रेषित करने के लिए निर्देशित किया गया । शिकायतों के निस्तारण हेतु टीमों को मौके पर पहुँचने हेतु रवाना किया गया । इसके अतिरिक्त जनपद के समस्त क्षेत्राधिकारीगण द्वारा अपने-अपने सर्किल की तहसीलों में उपस्थित रहकर जनशिकायतों का निस्तारण कराया गया ।


“संपूर्ण समाधान दिवस” में दिए गए आवश्यक निर्देश- तहसील संपूर्ण समाधान दिवस के सार्थकता तब है जब इसमें आने वाले फरियादियों को समय से न्याय मिले । इस दिवस की अपेक्षा पर खरा उतरने के लिए आधिकारिक कर्मचारीगण प्रतिबद्ध हो ।
इससे आने वाले प्रार्थना पत्र का निस्तारण समय से एवं निष्पक्ष तथा स्थलीय सत्यापन के साथ होना चाहिए।

अधिकारीगण संबंधित कर्मचारियों के साथ मौके पर जाकर शिकायतकर्ता का पक्ष सुनते हुए उसका निस्तारण करवाना सुनिश्चित करें । उन्होंने कहा है कि थाना से संबंधित प्रकरणो को थाना अध्यक्ष एवं तहसीलदार स्वयं मौके पर जाकर निस्तारण करवाना सुनिश्चित करें। संपूर्ण समाधान दिवस आयोजन में वरासत, भूमि विवाद , अतिक्रमण की शिकायतों पर राजस्व अधिकारियों को निर्देशित दिया कि राजस्व निरीक्षक, लेखपाल तथा पुलिसकर्मियों को मौके पर भेज कर स्थलीय निरीक्षण करते हुए नियमानुसार निस्तारण किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here